टेक्नोलॉजीMutual Funds क्या है - What Is Mutual Funds In Hindi -...

Mutual Funds क्या है – What Is Mutual Funds In Hindi – हिंदी

Mutual Funds क्या होता है और इसका उपयोग किस लिए किया जाता है, और कैसे आप Mutual Funds को अपनी प्रयोग में ला सकते हैं

पूरी जानकारी आपको मिल जाएगी इस आर्टिकल में तो चलिए जानते हैं|

MUTUAL FUNDS IN HINDI

दोस्तों जब कभी भी आप कहीं पर कार्य करते हैं या कहीं पर नौकरी करते हैं तो वहां पर दिए गए पैसों को आप कुछ खर्च कर देते हैं

और कुछ जमा कर कर खुद के पास रखते हैं या फिर उसे बैंक में जमा करा देते हैं

Mutual Funds

बैंक में जमा कराना एक मूर्खता है क्योंकि अगर आप अपने पैसों को किसी बैंक में पड़े रहने देते हैं तो उस पैसे का वैल्यू दिन-ब-दिन घटते जाता है |

पैसे ka वैल्यू ना घटे इसीलिए लोग अलग-अलग जगह पर इन्वेस्ट करते हैं तो हमारे भारत में लगभग 4 ऐसी जगह है जहां पर लोग इन्वेस्ट करते हैं

  1. Saving Account
  2. Fixed Deposits (FD)
  3. Gold & Jewellery
  4. Real State (Buying House, Land, And Building)
  5. Stock Market (जानिए क्या होता है स्टॉक मार्केट)

किसी भी प्रकार का Investment में तीन चीज होती हैं

  • Risk
  • Time
  • Return

Risk

जिसको वह चीज है जहां पर आपको यह पता करना है कि क्या जानते हैं

जहां पर आप आप इन्वेस्ट कर रहे हैं वहां से आपको फायदा होगा यह दोनों तरीके से हो सकता है

या तो आपको बहुत ज्यादा प्रॉफिट भी हो सकता है या अब बहुत ज्यादा नुकसान में भी जा सकते हैं

अगर आपको इसमें पैसा बढ़ाना है तो आपको बहुत ज्यादा Risk लेना होगा

Time

जब कभी भी कहीं पर इन्वेस्ट करते हैं तो आपको थोड़ा टाइम लगेगा क्योंकि ऐसा तो है नहीं कहीं पर कि आप आज पैसे दे और आपका पैसा कल डबल हो जाए

हां मैं मान सकता हूं कि शेयर मार्केट में इन्वेस्ट किया गया पैसा डबल हो सकता है पर ऐसे कहीं पैसा डबल नहीं होगा

Return

रिटर्न हमेशा परसेंटेज में देखा जाता है क्योंकि अगर इन्फ्लेशन परसेंट 10 चल रहा है

और आपका रिटर्न परसेंटेज 9:00 चल रहा है तो अब घाटे में हैं

आपका रिटर्न परसेंट इन्फ्लेशन परसेंट से हमेशा अधिक होना चाहिए तभी आपको फायदा होगा|

Mutual Funds क्या है

Mutual Funds एक प्रकार का ऐसा जरिया है जहां पर आपको प्रॉफिट ही देखने को मिलेगा क्योंकि Assets Management Company अलग-अलग जगहों पर इन्वेस्ट करता है|

आजकल लगभग आधे बैंक Assets Management का Service देते हैं और खुद भी Invest का ऑफर देते हैं और आपको Invest करने को भी बोला जा सकता है|

यहां पर बैंकों के द्वारा एक्सपर्ट्स की राय लेकर इन्वेस्ट किया जाता है

जहां पर आपको 4% से लेकर 30% से भी ज्यादा का प्रॉफिट हो सकता है

अभी आपको 0% रिस्क वाले Mutual Funds देखने को मिलेंगे और 50% रिस्क वाले से लेकर 100% रिस्क वाले Mutual Funds भी देखने को मिलेंगे

कम रिस्क में आपको कम रिटर्न मिलेगा और ज्यादा रिस्क में ज्यादा रिटर्न मिलेगा क्योंकि अगर आप ज्यादा रिस्क लेते हैं

Mutual Funds

तो आपके पैसे को शेयर मार्केट में इन्वेस्ट किया जाएगा और अगर आप कम रिस्क लेते हैं तो आपके पैसे को कम रिस्क वाले जगहों पर इन्वेस्ट किया जाएगा जिससे आपको पूरा रिटर्न मिलेगा

Mutual Funds एक ऐसा फंडा है जहां पर आप कम रिस्क लेंगे तो कम रिटर्न आएगा ज्यादा रिस्क लेंगे ज्यादा रिटर्न आएगा|

Types of Mutual Funds in Hindi

AMC में बैठे हुए विशेषज्ञ आपके पैसे कहां पर इन्वेस्ट हो रहे हैं इन सभी पर नजर रखते हैं

AMC Full Form – Assets Management Company

Mutual Funds को तीन प्रकार से बांटा जा सकता है

  • Equity Mutual Fund
  • Debt Mutual Fund
  • Hybrid Mutual Fund

Equity Mutual Funds (Share Market)

Equity Mutual Funds व फंड है जहां पर आपके पैसे को शेयर मार्केट में इन्वेस्ट किया जाएगा यानी कि आपके पैसे को किसी कंपनी के ऊपर इन्वेस्ट किया जाएगा और आपको उसके बेसिस पर रिटर्न दिया जाएगा पर यहां पर एक समझने वाली बात यह है

अगर आपके पैसों को एक बड़े कंपनी में इन्वेस्ट किया जाए तो उसमें रिटर्न के High Chances होते हैं

आपके पैसों को एक छोटी कंपनी पर इन्वेस्ट किया जाए तो उसके भविष्य में आगे बढ़ने के चांसेस बहुत ज्यादा होते हैं

क्योंकि एक बड़ा कंपनी तो पहले से Grow कर चुका है तो उसमें रिटर्न आने के चांसेस एक मिनिमम होते हैं

पर अगर आप किसी ने कंपनी के ऊपर इन्वेस्ट करते हैं तो आपके रिटर्न के चांद से बहुत कम होंगे लेकिन जो रिटर्न आएगा वह बहुत ज्यादा अधिक होगा

शेयर मार्केट के बारे में पूरा समझना चाहते तो आप हमारी इस आर्टिकल को जरूर पढ़ सकते हैं

Share Market – शेयर मार्केट क्या है?| NIFTY | SENSEX | पूरी जानकारी हिंदी में

स्टॉक मार्केट के ऊपर इन्वेस्टमेंट किया जाएगा वहां पर हाई रिस्क होना ही जरूरी है तभी आप को हाय रिटर्न मिलेगा

Debt Mutual Funds

Debt Mutual Funds व फंड होते हैं जहां पर आपको Bonds पर इन्वेस्ट करना होगा या Debentures सर्टिफिकेट ऑफ इन्वेस्टमेंट हो गया आपको उन सभी पर इन्वेस्ट किया जाता है

आगे हम जानेंगे कि बॉन्ड्स क्या होता है

इसमें आपको कुछ नहीं करना होता है आपको कुछ सरकार के द्वारा दिए गए चीजों को खरीदना होता है और बाद में बेचना होता है जब उसका वैल्यू ज्यादा हो जाता है

इन सभी में बहुत कम रिस्क होता है और बहुत कम रिटर्न भी होता है

क्योंकि इसमें आपको ज्यादा रिस्क लेने की जरूरत नहीं होती

Hybrid Mutual Funds

Hybrid Mutual Funds वह Mutual Funds होता है

जहां पर आपके पैसों को Debt Mutual Funds पर भी इन्वेस्ट किया जाता है और Equity Mutual Funds पर भी इन्वेस्ट किया जाता है

इसमें आपको कम रिटर्न भी देखने को मिलेगा और ज्यादा रिटर्न भी देखने को मिलेगा

क्योंकि इसमें रिस्क भी कम होगा और ज्यादा भी हो सकता है

क्योंकि यह दोनों का को मिलाकर बनाया गया है

तो चलिए जानते हैं कि बॉन्ड्स क्या होते हैं

What Are Bonds in Hindi

मान लीजिए कि हमारे भारत सरकार को अभी कुछ पैसों की जरूरत है

और उनके बजट में वह पैसे नहीं है

सरकार आम लोगों से Loan लेगी क्योंकि सरकार को भी पैसों की जरूरत है उनके बदले वह Bonds Sell करेगी!

Mutual Funds

सरकार आपको एक बेस्ट प्रतिशत का रिटर्न देगी जैसे मान लीजिए

अगर आप ने सरकार से Bonds खरीदा और भविष्य में जाकर अगर आप उसे सरकार को वापस बेचेंगे

तो सरकार आपको जो भी Fix किया गया प्रतिशत जैसे मान लीजिए

अगर आपने 5% इंटरेस्ट देने की प्राथमिक सरकार ने किया है तो वह आपको भविष्य में 5% ही इंटरेस्ट देगी

Mutual Funds के फायदे और नुकसान

तो चलिए जानते हैं की Mutual Funds क्या फायदे हैं और इसके क्या नुकसान हैं –

म्यूचल फंड में इन्वेस्ट करना चाहते हैं तो आपको यह जान लेना चाहिए कि इसके क्या फायदे हैं

और इसमें क्या क्या नुकसान हैं!

Mutual Funds के फायदे

दोस्तों म्यूच्यूअल फंड का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसमें आपके रिस्क बहुत जादे कम हो जाते हैं

क्योंकि इसमें आपका इन्वेस्टमेंट अलग-अलग जगह किया जाता है

जिससे अगर कोई कंपनी लॉस में भी चले जाती है तो आपका इतना ज्यादा अमाउंट लॉस नहीं होगा

जितना ज्यादा एक शेयर मार्केट में एक सिंगल कंपनी के ऊपर होता है

तो इसके बहुत बड़ा फायदा में से एक है कि

आपके Risk बहुत ही ज्यादा कम होते हैं पैसे को गवाने के

तो गोल्ड इन्वेस्टमेंट ज्वेलरी इन्वेस्टमेंट या रियल एस्टेट इन्वेस्टमेंट से Mutual Funds Investment बहुत कम रिस्की होता है

क्योंकि इसमें आपके पैसे अलग-अलग जगह Divide कर दिए जाते हैं

इसमें जरूरी नहीं होता है कि आप बहुत ज्यादा पैसों को इन्वेस्ट करें

आप इसमें कम इन्वेस्टमेंट से भी म्युचुअल फंड में इन्वेस्ट कर सकते हैं

अगर बात करें कि इसके इन्वेस्टमेंट में हमें क्या फायदे हैं

यहां पर आपको Invest नहीं करना होता है आपके जो AMC होगी वह आपके पैसों को इनवेस्ट करेंगी

जिससे होगा कि आपके पैसे बचे रहेंगे और रिस्क कम हो जाएगा

Mutual Funds के नुकसान

Mutual Funds का एक नुकसान यह भी है

आपको नहीं पता कि सामने जो इन्वेस्ट कर रहे आपके पैसों को वह कैसा आदमी है

और क्या आपके पैसों को वह सही जगह इन्वेस्ट कर रहे हैं

पहले के जमाने में Mutual Funds में बहुत ज्यादा कमीशन लिया जाता था

और हो सकता है एजेंट आपके पैसों से ही अपना कमीशन को काट ले क्योंकि पहले ऐसे ही होता था

हमें थोड़ा सपोर्ट करने के लिए इंस्टाग्राम पर जरूर फॉलो करें

आशा करता हूं कि आप सभी को यह आर्टिकल पसंद आया होगा

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Exclusive content

Latest article

More article

%d bloggers like this: